Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

DUSU चुनाव: ABVP का चार में से तीन सीटों पर कब्जा

ABVP wins DUSU Eletion

एबीवीपी के उम्मीदवार अमन अवाना अध्यक्ष निर्वाचित हुए, जबकि उत्कर्ष चौधरी ने उपाध्यक्ष और राजू रावत ने संयुक्त सचिव पद पर जीत दर्ज कराई. एनएसयूआई की करिश्मा ठाकुर सचिव चुनी गईं.

ABVP wins DUSU Eletion

ABVP wins DUSU Eletion

नई दिल्ली।। नरेंद्र मोदी को पीएम कैंडिडेट बनाने के बाद बीजेपी को दिल्ली से पहली खुशखबरी मिली है। दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनावों में एबीवीपी ने परचम लहराया है। एबीवीपी ने चार में से तीन पदों पर कब्जा कर लिया।

एबीवीपी के अमन अवाना ने अध्यक्ष पद पर कब्जा किया। उपाध्यक्ष पद एबीवीपी के उत्कर्ष चौधरी और जॉइंट सेक्रेटरी पद पर राजू रावत विजयी रहे। एनएसयूआई के खाते में सिर्फ एक ही सीट आई। एनएसयूआई की करिश्मा ठाकुर सेक्रेटरी चुनी गईं।

यह नतीजा पिछली बार से बिल्कुल उलट है। पिछली बार एनएसयूआई का तीन सीटों पर कब्जा था। माना जा रहा था कि इस बार एनएसयूआई व एबीवीपी के बीच टफ फाइट देखने को मिलेगी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। डीयू के छात्र संघ चुनावों में एबीवीपी की इस जीत को मोदी से जोड़कर भी देखा जा रहा है। दरअसल एबीवीपी उम्मीदवारों ने मोदी के पोस्टरों के साथ जमकर प्रचार किया था।

40 पर्सेंट वोटिंगः डूसू चुनाव में करीब 40 पर्सेंट वोटिंग हुई थी। वोटिंग के दौरान कई सरप्राइज फैक्टर देखने को मिले। जहां कैंपस के कई कॉलेजों में उम्मीद से ज्यादा वोटिंग हुई वहीं आउट ऑफ कैंपस में ठीक इसके उलट देखने को मिला। दरअसल जिन कॉलेजों में पैनल निर्विरोध जीत गया था, वहां पर स्टूडेंट्स ने डूसू चुनाव में दिलचस्पी नहीं दिखाई। मॉर्निंग कॉलेजों में 39.55 पर्सेंट वोटिंग हुई। दस ईवनिंग कॉलेजों में भी देर शाम तक वोटिंग हुई। ओवरऑल 40 पर्सेंट वोटिंग हुई।

टोटल वोटर थे 1.18 लाख: चीफ इलेक्शन ऑफिसर प्रो. अशोक वोहरा ने बताया कि इस बार वोटरों की संख्या बढ़ी और कुल 1.18 लाख वोटर रहे। पिछले साल 40.4 पर्सेंट वोटिंग हुई थी और इस बार भी वोटिंग पर्सेंटेज 40 तक है। लेकिन वोटर बढ़े हैं और इस हिसाब से वोटों की गिनती में भी ज्यादा समय लगेगा। प्रो. वोहरा का कहना है कि दोपहर 1 बजे तक रिजल्ट आ जाएगा। चीफ इलेक्शन ऑफिसर का कहना है कि कोशिश की जा रही है कि हर राउंड की काउंटिंग के बाद रिजल्ट बताया जाए।

 

एबीवीपी के उम्मीदवार अमन अवाना अध्यक्ष निर्वाचित हुए, जबकि उत्कर्ष चौधरी ने उपाध्यक्ष और राजू रावत ने संयुक्त सचिव पद पर जीत दर्ज कराई. एनएसयूआई की करिश्मा ठाकुर सचिव चुनी गईं.

एबीवीपी के उम्मीदवार अमन अवाना अध्यक्ष निर्वाचित हुए, जबकि उत्कर्ष चौधरी ने उपाध्यक्ष और राजू रावत ने संयुक्त सचिव पद पर जीत दर्ज कराई. एनएसयूआई की करिश्मा ठाकुर सचिव चुनी गईं.

जेएनयू में कम हुआ मतदान

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय [जेएनयू] के छात्र संघ चुनाव में छात्रों ने जमकर भागीदारी की, लेकिन पिछले वर्ष के मुकाबले वोटों का फीसद कम रहा। इस वर्ष 8053 छात्रों की संख्या होने के बावजूद कुल 56 फीसद मतदान हुआ, जबकि पिछले वर्ष 7000 छात्रों की संख्या होने पर भी जेएनयू में मतदान 58 फीसद था। इस दौरान सभी वामपंथी संगठन ढपली और ढोल के साथ अपने समर्थकों के लिए जबरदस्त नारेबाजी कर रहे थे।

Short URL: http://jayhind.co.in/?p=3030

Posted by on Sep 14 2013. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts

Photo Gallery