Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

राजस्‍थान: ग्रामोद्योग मंत्री बाबूलाल नागर पर रेप का आरोप, नौकरी देने के बहाने लूटी अस्‍मत

 मंत्री बाबूलाल नागर के खिलाफ एक युवती ने दुष्कर्म का आरोप

मंत्री बाबूलाल नागर के खिलाफ एक युवती ने दुष्कर्म का आरोप

जयपुर। भंवरी देवी कांड में महिपाल मदेरणा के फंसने के बाद राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार (कांग्रेस) के एक और मंत्री पर अब शिकंजा कस गया है। राज्य के डेयरी एवं खादी ग्रामोद्योग मंत्री बाबूलाल नागर पर एक महिला ने बलात्कार का आरोप लगाया है। जयपुर की एक कोर्ट ने महिला की याचिका पर पुलिस को बाबूलाल के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए। इसके बाद बाबूलाल नागर पर रेप केस दर्ज कर लिया गया।

महिला के मुताबिक ये घटना 11 सितंबर की हैमंत्री बाबूलाल नागर ने उसे नौकरी देने के बहाने अपने घर बुलाया लेकिन बातों ही बातों में उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी और बाद में उसके साथ रेप किया।

पीड़िता के मुताबिक वो मामले की शिकायत लेकर पुलिस के भी पास गई लेकिन पुलिस ने बाबूलाल नागर का रसूख देखते हुए मामला दर्ज करने से इनकार कर दिया। इसपर महिला ने जयपुर की सेशन कोर्ट में अर्जी दाखिल की।

कोर्ट ने जयपुर के सोडाला थाना पुलिस को मामला दर्ज कर जांच करने के आदेश दिए हैं। पुलिस का कहना है कि उसके पास पहले इस मामले की शिकायत नहीं आई। अब कोर्ट का ऑर्डर देखने के बाद मामला दर्ज कर लिया गया।

विवादों में रहे हैं कांग्रेसी विधायक 

दो बेटे और दो बेटियों के पिता बाबू लाल नागर लगातार तीसरी बार चुन कर विधानसभा पहुंचे हैं। एलएलबी कर चुके नागर जयपुर की दूदू विधानसभा सीट से कांग्रेस के विधायक हैं। नागर हमेशा से विवादों में रहे हैं। इसी साल फरवरी में भाजपा के एक कार्यकर्ता ने जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था। इसे लेकर कोर्ट में इस्तगासा पेश किया गया था। इस्तगासे के मुताबिक 17 फरवरी को शिवजीराम खुरडिया का दिनेश के पास फोन आया। उसने खादी राज्यमंत्री नागर से बात कराई। फोन रिसीव करते ही नागर ने उन्हें गालियां व धमकियां देना शुरू कर दिया। थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने गया तो मंत्री का नाम देखकर पुलिस ने इनकार कर दिया।

दो साल पहले सितंबर में ही सामने आया था भंवरी मामला 
भंवरी देवी मामला दो साल पहले सितंबर के महीने में ही पहली बार चर्चा में आया था। 1 सितंबर 2011 को भंवरी लापता हुई थी। भंवरी महिपाल मदेरणा के काफी करीबी थी। लापता भंवरी की तलाश उस वक्‍त जाकर खत्‍म हुई, जब उसके शरीर के कुछ अंग एक नहर में मिले। भंवरी और मदेरणा के बीच जिस्‍मानी संबंध थे, जिसकी गवाह वह सीडी है, जिसे भंवरी ने बनवाया था। मदेरणा के समर्थकों का कहना है कि भंवरी उन्‍हें ब्‍लैकमेल करती थी। जबकि भंवरी के लिए लड़ रहे लोगों का कहना है कि यह सत्‍ता के मद में चूर एक नेता की हवस का नतीजा है। आज भंवरी इस दुनिया में मौजूद नहीं है।

Short URL: http://jayhind.co.in/?p=3065

Posted by on Sep 17 2013. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts

Photo Gallery