Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

AAP की मजबूरी जानना चाहता है देश : डॉ. हर्षवर्धन

Harsh Vardhan questions AAP on support from Congress

 

अरविंद केजरीवाल अभी दिल्ली के मुख्यमंत्री बने रहेंगे. आज दिल्ली विधानसभा में आम आदमी पार्टी का विश्वास प्रस्ताव कांग्रेस विधायकों की मदद से पास हो गया. इसी के साथ सरकार गिरने को लेकर लगाई जा रही अटकलों और आशंकाओं पर विराम लग गया.

70 सीटों वाली दिल्ली विधानसभा में विश्वास मत के पक्ष में 37 वोट पड़े. इनमें 28 विधायक आम आदमी पार्टी के, 8 कांग्रेस के जबकि एक विधायक जेडीयू का है. विपक्षी बीजेपी के 32 विधायकों ने इसका समर्थन नहीं किया.

डॉ. हर्षवर्धन: AAP की मजबूरी जानना चाहता है देश

दिल्ली ने सबसे ईमानदार पार्टी को सबसे ज्यादा वोट दिलाए. विडंबना ही है कि जो पार्टी सदन में 15 साल से राज कर रही थी, वह 8 पर सिमट गई, जिस पार्टी को सबसे ज्यादा सीटें मिलीं वह विपक्ष में बैठी और 28 सीटों वाली पार्टी सत्ता में हैं. जब अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि वह कांग्रेस और बीजेपी से न समर्थन लेंगे, न देंगे, तो उनके प्रति आदर का भाव दृढ़ हुआ था. एक कदम आगे बढ़कर किसी टीवी चैनल पर तो उन्होंने कसम वगैरह भी खा ली थी. कभी-कभी मुझे लगता है कि उनका अनसाइंटिफिक माइंड है, लेकिन अपनी बात पर कायम हैं. लेकिन कसम तोड़े जाने से बहुत सच्चाई उजागर होती है.

सबको स्वीकार करना चाहिए कि दिल्ली की जनता ने भ्रष्ट कांग्रेस के खिलाफ जनादेश दिया था. उन्होंने कहा था कि पूर्व मुख्यमंत्री (शीला) को जेल में भेजेंगे और उनके और सरकार के दूसरे मंत्री-अधिकारियों के खिलाफ जांच करवाएंगे. लेकिन कल मैंने सुना कि वह कह रहे हैं कि डॉ. हर्षवर्धन के पास कोई सबूत हैं तो वे दे. मेरे पास जो सबूत हैं वो तो उन्होंने खुद कई बार उजागर किए हैं. सारा देश जानना चाहता है कि आम आदमी पार्टी की ऐसी कौन सी मजबूरी है कि उन्होंने कांग्रेस का साथ लिया.

पिछले दिनों आपने बहुत चतुराई से बातें कीं. बहादुरी से भी कीं. आपने कहा कि जनलोकपाल बनाएंगे. जबकि आप भी जानते हैं कि जनलोकपाल केंद्र सरकार ही बना सकती है. फिर आपने कहा कि जनलोकायुक्त लोगों को समझ में नहीं आता इसलिए आप इसे जनलोकपाल कहने लगे. कांग्रेस की मदद से स्टिंग ऑपरेशन से आम आदमी पार्टी बच गई.

दिल्ली मेट्रो में कानूनों की धज्जियां उड़वा दीं. आपके लिए स्पेशल मेट्रो ट्रेन चलीं. सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मी लगाए गए. बड़ा हादसा होने से बच गया. भगवान न करे ऐसा होता लेकिन इससे कोई दुर्घटना हो सकती थी. मेट्रो में तलना कोई विशेष बात नहीं है. मैंने तो कभी मीडिया वालों को बुलाकर मेट्रो में चलने की तस्वीर नहीं दी.

तिलक मार्ग पर आपके लिए दो बड़े सरकारी फ्लैट सुरक्षित कर लिए गए हैं. विश्वास मत मिलने से पहले ही. हमें इन सब चीजों से आपत्ति नहीं है. राजनीति में शुचिता और सादगी के हम भी पक्षधर हैं. लेकिन उसके लिए क्या वह सब कुछ कहने की जरूरत है, जो कहा गया. आपकी पार्टी के एक नेता ने कहा कि जो लोग कश्मीर में रहते हैं उनका जनमत-संग्रह होना चाहिए और अगर लोग चाहते हैं कि कश्मीर को अलग कर दिया जाए तो कर देना चाहिए और पाकिस्तान में मिला दिया जाए तो वह भी करना चाहिए. (बयान पर तथ्यात्मक गलती पर आम आदमी पार्टी के विधायकों ने विरोध जताया, स्पीकर के दखल से मामला सुलटा. हर्षवर्धन आगे बोले). आपके नेता ने मोहनचंद शर्मा की शहादत पर भी सवाल उठा दिए.

आप पूछते रहे कि अभी गठबंधन न करने वाली बीजेपी क्या 2014 में गठबंधन करेगी? भले ही आप कांग्रेस के साथ गठबंधन करके सरकार बना लें लेकिन 2014 में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में अगर एनडीए का एलायंस बनाने की जरूरत पड़ेगी तो हमें उसकी भी इजाजत नहीं है.

फोर्ड फाउंडेशन से अभी तक 3 लाख 69 हजार डॉलर की मदद ऑन रिकॉर्ड आपकी संस्था ‘कबीर’ (मनीष सिसोदिया का एनजीओ) को दी गई. हम इसका मकसद जानना चाहेंगे. केंद्र सरकार तो अपनी जांच कर रही होगी. पर दिल्ली सरकार को अपनी ओर से इस पर अपना रुख साफ करना चाहिए. आपने मुफ्त पानी की घोषणा तो कर दी लेकिन अभी जब पानी के बिल आएंगे तो सबको पता लग जाएगा कि किसका कितना फायदा हो रहा है. आप सब्सिडी बढ़ाकर बिजली के दाम घटा रहे हैं. आप डीईआरसी पर कीमतें कम करने का दबाव बनाते. लेकिन आप मेरा ही पैसा मेरी ही जेब से निकालकर कीमत घटाने का दिखावा कर रहे हैं. हमने भी दाम घटाने की बात कही थी लेकिन हमारी एक जेब से पैसा निकालकर दूसरे में डालने की योजना नहीं थी. हम सोलर ऊर्जा का उदाहरण पेश करना चाहते थे दिल्ली में.

सीएनजी के दाम बढ़ गए और सरकार को पता नहीं. आपने 6 दिन में सीएनजी के दाम घटाने को क्या किया. नए साल की सौगात के रूप में एलपीजी के दाम बढ़ा दिए. जो लोग आतंकवादियों का समर्थन करते हैं, ऐसे लोगों से मिलते हैं आप जाकर, क्योंकि आपको लगता है कि ऐसा करने से आपको वोट मिल सकते हैं. मनीष जी नैतिक बहुमत की बात कर रहे थे. राजनीति के क्षेत्र में अगर सबसे ज्यादा कोई अनैतिक बहुमत हो सकता है तो वह आप दोनों की मिली-जुली सरकार का है. आपने भ्रष्टाचार के साथ समझौता कर लिया. कभी कभी हमें लगता है कि सत्ता की वजह से लोगों की लार टपकने लगती है. हमें लगता नहीं कि जनता और देश के साथ विश्वासघात करने वाली ऐसी सरकार का हम समर्थन नहीं कर सकते. नहीं कर सकते.

विपक्ष के नेता हर्षवर्धन जी द्वारा पूछे गए इनमे से एक का भी जवाब केजरीवाल नहीं दे सके …..

01) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की आप ने कहा की हम सुरक्षा नही लंगे, पर आप की सुरक्षा पे रामलीला ग्राउंड में 4000 सुरक्षा कर्मी लगे !

02) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की आप शीला दीक्षित के खिलाफ लगे आरोपो की जाँच करेंगे पर आप ने कहा की हम सबूत देंगे तो आप जाँच करेंगे.!

03) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की आप कोई सरकारी बांग्ला नही लंगे तो, तिलक मार्ग पर 2 बड़े बंगले बुक क्यूँ हो गये!!

04) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा दिल्ली में मोहन शर्मा जी की शहादत को आप की पार्टी ने फ़र्ज़ी करार दिया. अफ़ज़ल गुरु की फाँसी पर भी आप ने प्रशानचिन्ह लगाए.!

05) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा शहादत में मरने वाले देश विरोधी होते हैं या देशभक्त!

06) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा कश्मीर पर आप की पार्टी के लोग देश द्रोही बात करते हैं.!

06) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की सिसोदिया जी की NGO को विदेशो से करोड़ो डॉलर का चंदा मिल रहा है क्या उस की जाँच कारवांगे.!

07) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा केजरीवाल जी ने कहा की आप आयकर विभाग के कमिश्नर रहे पर आप ही की संस्था ने बताया की आप कभी कमिश्नर पद पर नही रहे तो जनता से झूठ क्यूँ बोला!

08) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की दिल्ली में सिर्फ़ 8 लाख घरो में पानी के मिटर हैं बाकी की जनता को क्या दिया. 10% बिल और बढ़ा दिया!

09) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की दिल्ली की जनता को बिजली के दाम कम करने के नाम पर सब्सिडी देना जनता के पैसो का दुरुपयोग है.!

10) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा की दिल्ली की जनता के साथ आँकड़ो की बाजिगीरी करके धोखा दे रहे हैं.!

11) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा केजरीवाल जी देश की जनता से माफी माँगनी चाहिए, बात्टला हाउस एनकाउंटर पर, कश्मीर के देश द्रोही बयानो पर, आतंकवादियो से समर्थन माँगने पर.!

12) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा केजरीवाल जी आपने कहा की हम को नेतिक समर्थन मिला पर ये नेतिक नही अनेतिक समर्थन है, जिस सरकार का विरोध करके आप को जनता ने समर्थन दिया उसी के साथ आप ने गठबंधन किया सिर्फ़ सत्ता हथियाने के लिए!

13) डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा भाजपा ऐसी सरकार का समर्थन नही करेगी.

 

 

हमें फेसबुक  पर ज्वॉइन करें. 

भारत -एक हिन्दू राष्ट्र

अंकिता सिंह

Web Title :  Harsh Vardhan questions AAP on support from Congress

Keyword :  Arvind Kejriwal, AAP, Delhi Assembly, trust motion, Manish Sisodia, Dr. Harsh Vardhan

Posted by on Jan 2 2014. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts