Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

narednra modi and rajnath slammed congress in jaipur rally

modi-rally_650_091013035210

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की सुराज संकल्प रैली के जयपुर पहुंचने पर हुई बीजेपी की रैली में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी बोले कि कांग्रेस के खिलाफ हवा चल रही है. मगर इसे उखाड़ने के लिए पंप के सही इस्तेमाल की जरूरत होगी. वहीं बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने कहा कि पीएम जिस पर हाथ रखते हैं, वही गायब होता है. इस फेर में कई दूसरे मरीज भी उनके पास पहुंच रहे हैं.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि वसुंधरा जी बता रही थीं कि राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत गली गली में घूमकर कह रहे हैं कि मैं तो सेवा के लिए सत्ता का कड़वा घूंट जहर समझ पी रहा हूं. पीएम भी कहते हैं कि जहर की तरह है सब. मुझे समझ नहीं आता कि ये कांग्रेस वाले जो खुद देश को करप्शन का जहर पिला रहे हैं. हर वक्त जहर की बात क्यों करते हैं.शायद करप्शन को बचाने के लिए ऐसा करते होंगे. पीने की बात करते हैं, इसी के गीत गाते हैं, मगर करप्शन फिर भी दूर नहीं होता.

मोदी-मोदी गूंजा तो भाषण रोक हाथ जोड़ खड़े हो गए

नरेंद्र मोदी के लिए रैली के दौरान कुछ ऐसे पल भी आए, जब वह भाषण रोककर हाथ जोड़ खड़े हो गए.दरअसल कार्यकर्ता उनके भाषण के दौरान भी जोरदार नारेबाजी करते रहे. मोदी रुककर बोले कि मैं भाषण दूं या आपका नारा सुनूं. फिर उन्होंने कहा कि यहां लाखों लोग सुनने के लिए आए हैं.राजस्थान की पीड़ा, देश का दर्द सुनने आए हैं. आपको शोभा नहीं देता है.आप जानते हैं कि आप कितना नुकसान कर रहे हैं. एक बार फिर मोदी मोदी का नारा तेज हुआ, तो मोदी हाथ जोड़कर खड़े हो गए. फिर शोर कुछ थमा तो भाषण आगे बढ़ा.

मोदी-मोदी के नारे की वजह से राजनाथ सिंह ने अपने अध्यक्षीय भाषण की परंपरा एकबार फिर तोड़ते हुए मोदी से पहले ही निबट लिए. मोदी आए तो कई-बार भीड़ से परेशान होकर हाथ जोड़ कर खड़े हो गए कि आप ही बोल लीजिए मैं नही बोलूंगा. हंगामा बढ़ा तो गुस्सा मीडिया के साथ-साथ लोगों पर भी निकाला कि आप लोग मेरा नुकसान कर रहे हैं.गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यहां कहा,’आप लोग जो ये नारे लगा रहे हैं,नुकसान कर रहे हैं. आप नारे ही लगा लीजिए हम चुप रहते हैं.

देश की एबीसीडी बदल दी कांग्रेस ने

मोदी ने फेसबुक पर चर्चित हुए करप्शन के अल्फाबेट का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि अब बच्चे सी फॉर कैट नहीं करप्शन,कोलगेट और कांग्रेस पढ़ते हैं.मोदी के मुताबिक करप्शन कांग्रेस के लिए गहने की तरह है. नजराना है उनके लिए यह.उन्होंने यह भी कहा कि पीएम जी 20 से लौटे, मगर देश को नहीं बताया कि वहां उन्होंने क्या कहा. कुछ कहा भी या नहीं.

सब चीजों की एक ही दवाई

नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में बिगड़ती हालत कि एक ही दवाई है. कांग्रेस की छुट्टी कर दो. उन्होंने स्थानीयता का पुट देते हुए कहा कि इस देश में गुजरातियों के अलावा मारवाड़ी ही हैं, जो पैसों की असली कीमत समझते हैं. मगर आज हिंदुस्तान का रुपया अस्पताल में पड़ा है. जीवन मृत्यु के बीच में रुपया डांवाडोल है.मोदी ने कहा कि कांग्रेस की दो ही चिंता है. मरती हुई सरकार को बचाएं कि जीते हुए रुपये को बचाएं.

जयपुर हाई वे पर गवर्नर भी नहीं जातीं

अटल बिहारी सरकार की योजनाओं का जिक्र करते हुए बीजेपी के कैंपेन कमेटी प्रमुख बोले कि अटल जी के वक्त में दिल्ली जयपुर हाई वे बना. लोगों को साढ़े तीन चार घंटे लगते थे इस सफर में. फिर कांग्रेस आई. अटल जी के रास्ते पर चली नहीं. उन्होंने जो रास्ते बनाए थे, उस पर भी कोई न चल पाए, इसका इंतजाम किया. अब दिल्ली जयपुर हाई वे पर सात आठ घंटे लगते हैं. मोदी ने कहा कि मुझे पता चला है कि राजस्थान की राज्यपाल मार्गरेट अल्वा जी भी इस हाईवे की बुरी हालत को देखते हुए कहती हैं कि इस पर जाना मुनासिब नहीं.

वोटर बनना है जवानी का बड़ा उत्सव

राजस्थान के 40 फीसदी मतदाता 30 साल से कम उम्र के हैं. इस तथ्य पर ध्यान दिलाते हुए मोदी ने कहा कि हमारे बच्चों की जब शादी होती है, तो परिवार में उत्सव मनाया जाता है. मगर जब उसे वोट देने का हक मिलता है, जब उसे भारत के संविधान की अनमोल भेंट मिलती है, तब ये उत्सव नहीं मनाया जाता है. मोदी ने कहा कि मैं राजस्थान की धरती से पूरे देश के युवाओं को संदेश देना चाहता हूं कि 18 साल की उम्र में वोटर बनने के बाद आप भारत भाग्य विधाता बन जाते हैं. इसे उत्सव और जिम्मेदारी की तरह लें.

पंप के किस्से से खत्म की अपनी बात

कांग्रेस को उखाड़ फेंकने की बात करते हुए मोदी बोले कि जहां जाओ, सब बात करते हैं कि पूरे देश में कांग्रेस को उखाड़ फेंकने की आंधी चल रही है.उन्होंने फिर समझाया कि कांग्रेस को हटाने की आंधी अगर हम मान लें कि 200 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही है. तब भी क्या इससे साइकल के ट्यूब में हवा भरेगी. जनता से उन्होंने इसका जवाब पूछा. फिर एक चीखती हुई न सुनने के बाद मुस्कुराते हुए बोले, अगर हाथ में पंप हो तो हवा भर जाएगी. बूथ का कार्यकर्ता वह पंप है. बीजेपी का कार्यकर्ता पंप की तरह काम करेगा, लोगों को खींचकर लाएगा, तभी मतपेटी भरेगी.

राजनाथ ने बुढ़िया का किस्सा सुना पीएम का उड़ाया मजाक

बीजेपी की सुराज संकल्प रैली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने वसुंधरा राजे को राजस्थान की भावी मुख्यमंत्री बताने के बाद पीएम पर व्यंग्य करता एक किस्सा सुनाया. उन्होंने कहा कि एक बुढ़िया की कमर में दर्द था. वह डॉक्टर मनमोहन सिंह के पास पहुंची. तकलीफ बताई. पीएम बोले, पांच लाख ले लो इलाज के लिए. बुढ़िया ने इनकार कर दिया. पीएम ने रकम बढ़ाकर 10 लाख कर दी. वह तब भी नहीं मानी. पीएम ने पूछा. चाहती क्या हो. अम्मा बोली. आप जिस चीज पर हाथ रखते हो, वह गायब हो जाती है. कोयले पर हाथ रखा. कहां चला गया पता ही नहीं चला. फाइलों पर हाथ रखते हो, वे भी गायब हो जाती हैं.तो डॉक्टर सिंह आप मेरी कमर पर हाथ रख दो. मेरा दर्द भी फाइलों की तरह साफ हो जाएगा.

वसुंधरा की करवाई जय जय

नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में इस बात का ध्यान रखा कि मंच का इस्तेमाल खुद के राजस्थान में लॉन्चिंग पैड की तरह ही न हो. बल्कि स्थानीय क्षत्रप वसुंधरा राजे को भी भरपूर सराहना मिले. उन्होंने कहा कि वसुंधरा राजस्थान की धरती पर परिवर्तन की आंधी लेकर आई हैं. मोदी बोले कि शास्त्रों में कहा जाता है कि जो यात्रा करके आए, उसे प्रणाम करो. ऐसा करने पर यात्रा का आधा पुण्य मिल जाता है. बहन वसुंधरा ने तो करीब 16 हजार किलोमीटर की यात्रा की है, प्रदेश की तकलीफ समझने के लिए. उन्हें मेरा प्रणाम.

रैली में भीड़ इतनी ज्यादा थी कि एक दर्जन से ज्यादा लोग बेहोश हुए.भीड़ के पैमाने से वसुंधरा की ये रैली सफल कही जा सकती है जो कांग्रेस की गहलोत सरकार के लिए खतरे की घंटी भी साबित हो सकती है. इस रैली में ओलंपिक पदक विजेता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और जयपुर की पूर्व राजकुमारी दिया सिंह बीजेपी में शामिल हुए.

News Source : Aaj Tak

Short URL: http://jayhind.co.in/?p=2949

Posted by on Sep 10 2013. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts

Photo Gallery