Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

भाई की हत्या का आरोपी ईसाई धर्म प्रचारक गिरफ्तार

हैदराबाद। अंतरराष्ट्रीय ईसाई धर्म प्रचारक केए पॉल को आंध्र प्रदेश पुलिस ने भाई की हत्या के आरोप में सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। गरीब हिंदू परिवार में जन्म लेने और फिर परिवार समेत ईसाई धर्म स्वीकार करने वाले पॉल को ओंगोल शहर से तब गिरफ्तार किया गया जब वह आगामी उपचुनाव के लिए अपने राजनीतिक दल प्रजा शांति पार्टी के लिए प्रचार कर रहे थे। इसके बाद उन्हें स्थानीय अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

पॉल का भाई डेविड राज फरवरी, 2010 को महबूबनगर जिले में संदिग्ध अवस्था में मृत पाया गया था। पुलिस के अनुसार, दोनों भाइयों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद था। आरोप है कि पॉल के सहयोगी कोटेश्वर राव ने डेविड की हत्या में अहम भूमिका निभाई थी, लेकिन बाद में वह पॉल को ब्लैकमेल करने लगा, इसलिए पॉल ने राव को भी मारने की योजना बनाई। उसने इस काम के लिए कथित रूप से एक पुलिस इंस्पेक्टर को एक करोड़ रुपये की पेशकश की और तीन लाख बतौर एडवांस भी दे दिए। पुलिस ने इस पूरे घटनाक्रम की गोपनीय तरीके से फिल्म बना ली और इसी के आधार पर उसको गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक [प्रकाशम] रघुरामी रेड्डी ने बताया, ‘पॉल के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा- 120 बी [अपहरण के लिए आपराधिक षड्यंत्र की साजिश रचना] और 307 [हत्या का प्रयास] के तहत मामला दर्ज किया गया है। भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत वह पहले से ही एक आरोप का सामना कर रहे हैं। पॉल ने वर्ष 2009 में यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि तत्कालीन मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी ने चुनाव फंड के लिए उनसे 20 करोड़ मांगे थे। पॉल ने कहा था कि उन्होंने धन देने की मांग को ठुकरा दिया था और बाद में प्रजा शांति पार्टी नाम से खुद का एक दल गठित किया। स्थानीय जेल में जाने से पहले पॉल ने पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस नेता वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने उसे जेल भेजने की साजिश रची है।

 

Source : http://www.jagran.com

Short URL: http://jayhind.co.in/?p=1202

Posted by on Jul 21 2012. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed

Recent Posts

Photo Gallery