Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

वाह रे BCCI! खिलाड़ियों को 1-1 करोड़, पीड़ितों को ठेंगा?

No Help From Bcci To Uttarakhand Victims

No Help From Bcci To Uttarakhand Victims

बलमपिचकारी जो तूने मुझे मारी… जैसे बॉलीवुड गानों का शोर, विदेशी शराब शैम्पेन का दौर। बस इन दो चीजों के बीच बीती धोनी ब्रिगेड की रात।

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जीतने के बाद युवाओं से लबरेज टीम इंडिया रातभर पार्टी करती रही। बर्मिंघम के ब्रॉड स्ट्रीट स्थित टीम होटल में रातभर जश्न का दौर चलता रहा। हो भी क्यों न, धोनी ब्रिगेड ने मेजबान इंग्लैंड को वनडे से टी-20 बने फाइनल में महज 5 रन के अंतर से पस्त जो किया है। देशवासी भले ही चीतपुकार कर मदद की गुहार लगाते रहें, लेकिन क्रिकेट टीम के ऐश और आराम में किसी प्रकार की कमी नहीं आनी चाहिए।
चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में मैन ऑफ द मैच बने शिखर धवन ने अपना अवार्ड उत्तराखंड बाढ़ त्रासती के पीड़ितों को समर्पित जरूर किया, लेकिन पावर के मद में डूबी बीसीसीआई के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी।
क्रिकेट के मैदान पर टीम इंडिया की जीत वाकई काबिल-ए-तारीफ है, लेकिन जब देश इतनी बड़ी त्रासदी से जूझ रहा हो तो ऐसे में गेंद और बल्ले की कामयाबी थोड़ी बेमानी सी लगती है।
ट्रॉफी जीतते ही हर खिलाड़ी के लिए बीसीसीआई ने 1-1 करोड़ रुपए का इनाम घोषित कर दिया, लेकिन बाढ़ पीड़ितों को देने के लिए दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के पास फूटी कौड़ी तक नहीं।
धोनी ब्रिगेड उस देश की नुमाइंदगी करने इंग्लैंड गई थी जिसके वासी खुद से ज्यादा क्रिकेटरों की जीत और सलामती के लिए दुआ करते हैं। जो घर बाढ़ की चपेट में नहीं हैं वहां हर पल रविवार को यही दुआ हो रही थी कि बर्मिंघम में बारिश न हो। इंद्र देव मेहरबान रहें और मैच पूरा हो जाए। प्रशंसकों की दुआ तो रंग लाई, लेकिन घोटालों की एक्सपर्ट बीसीसीआई का मन जरा भी नहीं पसीजा।
किसी भी परिस्थिति में जनता-जनार्दन से बेहतर कोई नहीं होता। सभी सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर बीसीसीआई की इस बेरुख की कड़ी आलोचना हो रही है। खिलाड़ियों की जीत तक तो सब ठीक था, लेकिन उन्हें 1-1 करोड़ की इनाम राशि की बात आते ही यह सवाल खड़ा हो गया कि क्या बीसीसीआई को उस देश की जनता के लिए कुछ नहीं करना चाहिए जिसके प्यार और दुलार के दम पर ही वे दुनिया की नंबर 1 बोर्ड बनी है?
रातभर चला जश्न का दौर
आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी हाथ में आते ही टीम इंडिया के विराट कोहली और रविंद्र जडेजा ने मैदान पर ही गंगनम स्टाइल डांस शुरू कर दिया था। कड़े मेहनत के बाद मिली जीत के बाद कोहली पुश-अप्स लगा रहे थे। वहीं रोहित शर्मा और शिखर धवन देसी स्टाइल में भांगड़ा कर रहे थे।
जश्न का दौर सिर्फ मैदान तक ही सीमित नहीं रहा। स्टेडियम से टीम होटल पहुंचते ही शैम्पेन की बोतल खुल गई।
खिलाड़ी सुबह तड़के तक शराब में डूबे रहे और बॉलीवुड व पंजाबी पॉप गानों पर थिरकते रहे।
मद में चूर है बीसीसीआई
बीसीसीआई के प्रमुख श्रीनिवासन भले ही कितने भी विवादों में क्यों न फंसे हों, लेकिन उनकी अकड़ अब भी बरकरार है।
पद छोड़ने के बाद फिर से अध्यक्ष बने श्रीनिवासन अब आईसीसी की सालाना बैठक को गच्चा देने की सोच रहे हैं। 25 से 29 जून के बीच होने वाली इस बैठक में श्रीनिवासन का शामिल होना संदिग्ध लग रहा है।
श्रीनिवासन आईपीएल करप्शन स्कैंडल में फंसे हुए हैं।
Source : bhaskar.com

Short URL: http://jayhind.co.in/?p=2368

Posted by on Jun 25 2013. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts

Photo Gallery