Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

मिसाल: जरूरतमंदों की सेवा को लिया नि:संतान रहने का संकल्प : अहा! ज़िंदगी

Paradigm Of Married Couple For Helping Old People

 

फरीदाबाद. दिन रात जरूरतमंदों की सेवा करना ही जिनके जीवन का मकसद है। यहां बात हो रही है सेक्टर-21सी में रहने वाले प्रणव शुक्ला व उनकी धर्मपत्नी अंकिता शुक्ला की। वे 24 बुजुर्गों की सेवा में जुटे हैं। समाज सेवा के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को देखकर हर कोई दंग रह जाता है। 36 वर्षीय प्रणव शुक्ला अनादि सेवा प्रकल्प संस्था चलाते हैं। उनकी पत्नी 31 वर्षीय अंकिता उनकी हरसंभव मदद करती है। प्रणव ब्रिटिश कंपनी ऑल सेंट्स में जीएम के पद पर कार्यरत हैं। वहीं अंकिता जाफरा अमेरिकन कंपनी में रीजनल मैनेजर हैं।

शादी के समय लिया संकल्प: क्योंकि जरूरतमंदों की सेवा करना ही जीवन का उद्देश्य था। इसलिए शादी के समय ही दंपती ने प्रण लिया कि नि:संतान रहेंगे। फिर कुछ समय बाद हरिद्वार जाकर जीते-जी अपना अंतिम संस्कार की क्रिया की। ऐसा क्यूं। पूछने पर कहते हैं कि अपना बच्चा होगा तो मोह-माया के जाल में फंसेंगे। बाद में कौन अंतिम संस्कार करेगा। कैसे होगा। इस झंझट से मुक्त होने के लिए शास्त्रानुसार पहले ही सब कुछ कर लिया है।

Paradigm Of Married Couple For Helping Old People  Aha zindagi

ऐसी हुई थी शुरुआत: 14 अगस्त 1996 को अनादि की स्थापना शुक्ला ने की थी। इसके माध्यम से स्वास्थ्य, शिक्षा, पर्यावरण और बुजुर्गों की सेवा करने का संकल्प लिया। अनादि का उद्देश्य हर वक्त लोगों की सेवा करने के लिए तत्पर रहना है। प्रणव कहते हैं कि पढ़ाई के लिए ओखला जाना होता था। इस दौरान सड़क किनारे रहने वाले बुजुर्गों को देख हृदय द्रवित होता था। इस संबंध में पिता डॉ. एसपी शुक्ला से बात होती थी। उन्होंने कहा कि जो कुछ करना चाहते हो मन से करो। फिर, अनादि की रूपरेखा तैयार की। मौजूदा समय में पाली में वृद्ध सेवा सदन और गौधाम चला रहे हैं। सदन में 24 बुजुर्गों की सेवा कर रहे हैं। वहीं गौधाम में गाय माता की सेवा में जुटे हुए हैं।

पति व पत्नी ऑफिस से छुट्टी मिलते ही सेवा सदन पहुंचते हैं। बुजुर्गों के साथ समय बिताते हैं। उनकी देखभाल करते हैं। काम के सिलसिले में शहर से बाहर नहीं हैं तो निश्चित तौर पर शनिवार व रविवार को बुजुर्गों के साथ भोजन करते हैं। सेवा सदन का खर्च दोनों अपनी सैलरी से चलाते हैं। ऐसे कोई दान दे तो ठीक है।नहीं तो सभी कुछ अपनी सैलरी से करते हैं।

News Source : bhaskar.com

हमें फेसबुक  पर ज्वॉइन करें. 

भारत -एक हिन्दू राष्ट्र

अंकिता सिंह

Web Title : Paradigm Of Married Couple For Helping Old People : Aha zindagi

Keyword : अहा! ज़िंदगी,aha zindagi,helping

Posted by on Mar 2 2014. Filed under अहा! ज़िंदगी. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts