Donation (non-profit website maintenance)

Live Indian Tv Channels

अब ‘संकल्प दिवस’ पर अखिलेश सरकार की रोक

लखनऊ।। उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार ने 18 अक्टूबर को वीएचपी के प्रस्तावित ‘संकल्प दिवस’ कार्यक्रम पर रोक लगा दी है। इस फैसले पर सख्ती से अमल के लिए रामनगरी को छावनी में तबदील करने की तैयारी है। वीएचपी का यह कार्यक्रम मुख्य रूप से अयोध्या में ही होना था। वीएचपी ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार उसके राम मंदिर बनवाने के आंदोलन को कुचलना चाहती है।

आईजी लॉ एंड ऑर्डर राजकुमार विश्वकर्मा ने बताया कि फैजाबाद के डीएम ने कानून-व्यवस्था बिगड़ने की आशंका के बाद 18 अक्टूबर को प्रस्तावित विश्व हिन्दू परिषद के ‘संकल्प दिवस’ कार्यक्रम पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस पर सख्ती से अमल के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए जा रहे हैं। वीएचपी के इस कार्यक्रम में 1 लाख लोगों के शामिल होने का अंदेशा था। इसी को देखते हुए प्रशासन ने यह कदम उठाया।

UP govt bans VHP Sankalp Diwas

UP govt bans VHP Sankalp Diwas

विश्वकर्मा ने बताया कि वीएचपी की संकल्प सभा पर लगे प्रतिबंध पर सख्ती से अमल के लिए अयोध्या-फैजाबाद में पांच अपर पुलिस अधीक्षकों, 10 उपाधीक्षकों, 50 निरीक्षकों और उपनिरीक्षकों, 10 महिला उपनिरीक्षकों और 300 सिपाहियों के साथ ही पीएसी की 5 कंपनियों की अतिरिक्त तैनाती की जा रही है।

विश्वकर्मा ने बताया कि यह तैनातियां फैजाबाद उपमहानिरीक्षक और लखनऊ के महानिरीक्षक के पास नियमित आधार पर उपलब्ध पुलिस अधिकारियों और आरक्षियों के अतिरिक्त हैं। विश्वकर्मा ने बताया कि कुल मिलाकर वहां पर अधीक्षक और अपर अधीक्षक स्तर के अधिकारियों के अलावा 25 उपाधीक्षक, 150 से 200 तक निरीक्षक और उपनिरीक्षक तथा 1000 सिपाही तैनात रहेंगे। पीएसी की पांच कंपनियां अतिरिक्त रूप से तैनात रहेंगी।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वीएचपी के प्रतिबंधित ‘संकल्प दिवस’ पर रोक के लिए वैसे ही सुरक्षा इंतजाम किये जाएंगे, जैसे 13 सितंबर को वीएचपी की ’84 कोसी’ अयोध्या परिक्रमा पर रोक के लिए किए गए थे। इसके तहत उचित स्थानों पर बैरीकेडिंग की जाएंगी और आने जाने वालों की जांच भी होगी।

उल्लेखनीय है कि वीएचपी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर 18 अक्टूबर को वहां एक ‘संकल्प सभा’ के आयोजन की घोषणा की थी और दावा किया था कि उसमें एक लाख से अधिक लोग शामिल होंगे।

Short URL: http://jayhind.co.in/?p=3555

Posted by on Oct 14 2013. Filed under खबर. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can skip to the end and leave a response. Pinging is currently not allowed.

Leave a Reply

*

Recent Posts

Photo Gallery